मल्टी बूटेबल पेनड्राइव कैसे बनाए? एक ही पेनड्राइव में सभी OS!

मल्टी बूटेबल पेनड्राइव कैसे बनाए एक ही पेनड्राइव में सभी OS कैसे डाले

क्या आप भी अलग अलग OS की पेनड्राइव, USB या CD/DVD इकठा करके थक चुके है? क्या आप भी चाहते है की एक ही पेनड्राइव या CD/DVD में सभी ऑपरेटिंग सिस्टम हो और उस ही से हम अपने कंप्यूटर में OS को इनस्टॉल करे? अगर आप भी मल्टी बूटेबल पेनड्राइव बनाने की सोच रहे है तो ये आर्टिकल आपके लिए है।

अब आप सोच रहे होंगे की पेनड्राइव में किसी भी ऑपरेटिंग सिस्टम को डालना कोन सी बड़ी बात है, इसके लिए OS (ऑपरेटिंग सिस्टम) की सभी फाइल को कॉपी करके उस पेनड्राइव में पेस्ट कर दो तो वो ऑपरेटिंग सिस्टम उस डिवाइस या पेनड्राइव में कॉपी हो जाएगा। एक तरह से ये सही भी है।

लेकिन केवल OS की सभी फाइल को कॉपी करके उस पेनड्राइव में पेस्ट कर देने से क्या आप किसी भी कंप्यूटर या लैपटॉप में उस OS को इनस्टॉल कर पाएँगे?

तो मेरा जवाब होगा नहीं!

OS को किसी भी कंप्यूटर में इनस्टॉल करने के लिए पेनड्राइव, USB या CD/DVD को पहले बूटेबल बना होता है।

सबसे पहले समझते है की मल्टी बूटेबल पेनड्राइव या मल्टी बूटेबल USB क्या होता है

मल्टी बूटेबल पेनड्राइव क्या होती है?

कंप्यूटर या लैपटॉप में ऑपरेटिंग सिस्टम को इंसटाल करने से पहले उस ऑपरेटिंग सिस्टम को हमे पेनड्राइव, USB या CD/DVD जैसे किसी डिवाइस में इनस्टॉल करना होता है या कह सकते है की उस ऑपरेटिंग सिस्टम की फाइलो को कॉपी करना होता है। उसके बाद वो पेनड्राइव या डिवाइस बूटेबल बन जाता है। यानी की अब उस बूटेबल पेनड्राइव या USB से आसानी से किसी भी कंप्यूटर में विंडोज, लिनक्स या किसी भी दूसरी OS को इनस्टॉल कर सकते है।

एक ही USB डिवाइस में कई सारे OS को डालने के प्रोसेस को ही मल्टी बूटेबल पेनड्राइव या मल्टी बूटेबल USB डिवाइस कहते है। आसान शब्दों में कहुँ तो ये एक ऐसा प्रोसेस होता जिससे आपका डिवाइस बूटेबल बन जाता है।

यानी की उस एक ही पेनड्राइव से आप विंडोज (Windows 7, 8, 10, 11), लिनक्स (Linux Mint, Ubuntu, Fedora, Kali, इत्यादि), मैक OS या किसी भी दूसरी OS को बड़ी ही आसानी से अपने कंप्यूटर में इनस्टॉल कर सकते हो और इसके लिए आपको अलग अलग पेनड्राइव, USB या CD/DVD इकठा करने की भी जरुरत नहीं होगी।

मल्टी बूटेबल पेनड्राइव कैसे बनाए?

कंप्यूटर और ऑपरेटिंग सिस्टम की दुनिया एक विशाल महासागर जैसी है, जिसमे सभी ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए अलग अलग पेनड्राइव, CD/DVD रख पाना बहुत ही मुश्किल होता है। तो, क्या एक ही पेनड्राइव में कई ऑपरेटिंग सिस्टम की ISO डालना और उसी का इस्तेमाल करके कंप्यूटर या लैपटॉप में OS को इनस्टॉल करने का कोई तरीका है? तो मेरा जवाब होगा हाँ, और वो भी काफी आसान है।

एक ही पेनड्राइव में विंडोज (Windows 7, 8, 10, 11), लिनक्स (Linux Mint, Ubuntu, Fedora, Kali, इत्यादि) या किसी भी ऑपरेटिंग सिस्टम को डाल कर रख सकते है और जरूरत पड़ने पर उसी पेनड्राइव से अपने कंप्यूटर में अपनी जरूरत के अनुसार ऑपरेटिंग सिस्टम को इनस्टॉल कर सकते है। इसके लिए हम इसी आर्टिकल में कुछ टूलस करेंगे।

सबसे पहले आपके पास उस OS की इमेज फाइल या ISO फाइल होनी चाहिए जिससे आप पेनड्राइव को बूटेबल बनाएगे या जिसको आप पेनड्राइव में डालेंगे। नीचे कुछ टूलस का इस्तेमाल करके मल्टी बूटेबल पेनड्राइव बनाने का तरीका बताया गया है।

1. YUMI

YUMI (Your USB Multiboot Installer / Your Universal Multiboot Installer) सबसे ज्यादा पॉपुलर टूल है, जिसका इस्तेमाल मल्टी बूटेबल USB बनाने के लिए किया जाता है साथ ही इसका इस्तेमाल करना काफी आसान है और ये समय समय पर नया वर्जन नए OS के सपोर्ट के साथ लांच करते रहते है। इसमें तीन अलग अलग वर्जन है:

  • YUMI exFAT: ये exFAT फॉर्मेट और 4GB से बड़ी फाइल को सपोर्ट करता है। ये BIOS और UEFI USB boot दोनों को ही सपोर्ट करता है।
  • YUMI Legacy: ये NTFS और Fat32 फॉर्मेट को सपोर्ट करता है। ये BIOS USB boot को ही सपोर्ट करता है।
  • YUMI UEFI: ये Fat32 को ही सपोर्ट करता है। ये BIOS और UEFI USB बूटिंग दोनों को ही सपोर्ट करता है।

अगर आपको नहीं पता की कौन सा वाला वर्जन डाउनलोड करे तो में आपको YUMI exFAT को ही डाउनलोड करने की सलाह दूंगा क्यूंकि ये लेटेस्ट वर्जन है।अगर YUMI exFAT ठीक से काम ना करे या आपके सिस्टम में सपोर्ट ना करे तो YUMI UEFI का इस्तेमाल भी कर सकते है। अगर आपका सिस्टम बहुत ज्यादा पुराना है या उसमे UEFI सपोर्ट नहीं करता है तब आप YUMI Legacy का इस्तेमाल कर सकते है।

YUMI exFAT का इस्तेमाल करके मल्टी बूटेबल USB डिवाइस कैसे बनाए?

स्टेप 1: सबसे पहले YUMI exFAT को इसकी ऑफिसियल वेबसाइट से डाउनलोड करे।

स्टेप 2: अब अपने सिस्टम में पेनड्राइव को लगाए फिर YUMI exFAT को खोले और I Agree बटन पर क्लिक करे।

स्टेप 3: अब अपनी पेनड्राइव को सेलेक्ट करे

अगर आपके सिस्टम में एक से ज्यादा USB डिवाइस या पेनड्राइव लगी हुई है तो वो सभी इसमें दिखाई देंगे। ध्यान रहे जिसे आप मल्टी बूटेबल USB बनाना चाहते है केवल उसे ही सेलेक्ट करे।

गलत ड्राइव सेलेक्ट करने पर उस ड्राइव का सारा डाटा डिलीट हो जाएगा। इसलिए ड्राइव का चुनाव ध्यान से करे।

YUMI exFAT - Select Pendrive

स्टेप 4: अब एक पॉपअप आएगा जिसमे आपको Yes बटन पर क्लिक करना होगा। क्यूंकि पेनड्राइव को सेलेक्ट करते ही एक पॉपअप आएगा और पूछेगा की क्या आप इस पेनड्राइव को बूटेबल बनाना और फॉर्मेट करना चाहते है।

YUMI exFAT - Select Pendrive (Click on Yes)

स्टेप 5: अब आपके सामने एक नई विंडो खुलेगी, जिसमे Install बटन पर क्लिक करे।

अगर आप पेनड्राइव को पहली बार exFAT फॉर्मेट में कन्वर्ट कर रहे है तो Install बटन पर क्लिक करे। अगर आपकी पेनड्राइव पहले से ही exFAT फॉर्मेट में कन्वर्ट है और अभी YUMI exFAT का नया वर्जन डाउनलोड किया है तो Update बटन पर क्लिक करे।

Update बटन पर क्लिक करने से जो भी नया वर्जन होगा या नई फाइल होगी वो पेनड्राइव में इनस्टॉल हो जाएगी। मैंने Install बटन पर क्लिक किया है क्यूंकि मैं ये मानते हुए चल रहा हूँ की आप इस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल पहली बार कर रहे है।

YUMI exFAT - Click on Install

स्टेप 6: अब फिर से एक पॉपअप आएगा उसमे फिर से Yes बटन पर क्लिक करे। उसके बाद एक और पॉपअप आएगा उसमे फिर से Yes बटन पर क्लिक करे।

पॉपअप ये बता रहा है की डिवाइस को फॉर्मेट करना होगा और जो भी डाटा होगा वो डिलीट हो जाएगा।

मैं भी आपको यही सलाह दूंगा की पेनड्राइव या USB डिवाइस में जो भी डाटा है आगे बढ़ने से पहले एक बार उसका बैकअप जरूर ले ले।

YUMI exFAT - On Install and Update (Click on Yes)
पहला पॉपअप
YUMI exFAT - On Install and Update (Click on Yes, Double Check)
दूसरा पॉपअप

स्टेप 7: अब लिस्ट में से उस ऑपरेटिंग सिस्टम को सेलेक्ट करे जिसकी ISO फाइल को आप पेनड्राइव में डालना चाहते है। मैंने सबसे पहले ubuntu को सेलेक्ट किया है।

YUMI exFAT - Select Operating System

स्टेप 8: अब Browse बटन पर क्लिक करे और ubuntu की ISO फाइल को सेलेक्ट करे।

अगर OS की ISO फाइल आपके पास पहले से नहीं है तो आपको उसे पहले डाउनलोड करना होगा और फिर Browse बटन पर क्लिक करके और फिर उसे सेलेक्ट करे।

YUMI exFAT - Browse OS location and select ISO file

स्टेप 9: अब Create बटन पर क्लिक करे।

YUMI exFAT - Click on Create

Create बटन पर क्लिक करते ही OS की ISO फाइल पेनड्राइव में कॉपी होना शुरू हो जाएगी। प्रोसेस पूरा होते ही Next बटन पर क्लिक करे।

स्टेप 10Next बटन पर क्लिक करते ही फिर से एक पॉपअप आएगा।

YUMI exFAT - Copied ISO file (Copying File Process Complete)

पॉपअप में पूछ जा रहा है की क्या आप और ISO फाइल कॉपी करना चाहते है तो Yes बटन पर क्लिक करे और नहीं तो No बटन पर क्लिक करे।

YUMI exFAT - Add More ISO or Dstro

मैंने Yes बटन पर क्लिक किया है क्यूंकि हमे इसे मल्टी बूटेबल पेनड्राइव बनाना है और उसके लिए फिर से यही पूरा प्रोसेस फॉलो करना होगा। बस इस बार स्टेप 4, स्टेप 5 और स्टेप 6 को छोड़ दे।

हर बार आपको लिस्ट में अलग अलग OS को सेलेक्ट करना होगा और अगर किसी OS की ISO फाइल आपके पास नहीं है तो वो आप उसकी ऑफिसियल वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते है।

जब एक एक करके सभी ऑपरेटिंग सिस्टम USB डिवाइस में इनस्टॉल हो जाएँगे तब बूट मेन्यू कुछ इस तरह से दिखाई देगा।

YUMI exFAT Boot Screen
YUMI exFAT Boot Menu
YUMI exFAT Boot Screen Windows Installer
YUMI exFAT Boot Screen for Windows
YUMI exFAT Boot Screen Linux Distro
YUMI exFAT Boot Screen for Linux
मल्टी बूटेबल USB (YUMI exFAT) डिवाइस में से किसी भी OS को कैसे हटाए या कैसे अनइंस्टाल करे?

आपने ऊपर सीखा की YUMI exFAT से किसी भी USB ड्राइव को कैसे मल्टी बूटेबल USB बनाया जाता है। लेकिन अगर भविष्य में कभी कोई एक या एक से ज्यादा OS को अपनी USB डिवाइस से हटाना हो तो वो कैसे हटाए?

आप बिलकुल सही सोच रहे है अब हम जानेगे की YUMI exFAT का इस्तेमाल करके हमने पेनड्राइव में जितनी भी OS को डाली है उसको एक एक करके कैसे हटाया जाए।

स्टेप 1: सबसे पहले YUMI exFAT को खोले और I Agree बटन पर क्लिक करे।

स्टेप 2: अब अपनी पेनड्राइव को सेलेक्ट करे।

स्टेप 3: अब View or Removed Installed Distros? को सेलेक्ट करे।

Select OS from the list in YUMI exFAT

स्टेप 4: अब लिस्ट में से उस OS को चुने जिसे आप हटाना चाहते है। जैसे की मैंने Linux Mint को सेलेक्ट किया है।

स्टेप 5: अब Remove बटन पर क्लिक करे।

Select View or Removed Installed Distros in YUMI
How to Remove OS Using YUMI exFAT

WinSetupFromUSB काफी पुराना टूल है। हालाँकि इसका इस्तेमाल सिंगल बूटेबल पेनड्राइव बनाने के लिए सबसे ज्यादा किया जाता है। लेकिन इससे हम मल्टी बूटेबल पेनड्राइव बनाने के लिए भी इस्तेमाल कर सकते है। इसमें दो ISO फाइल को एक साथ भी लगा सकते है जिससे हमारा काफी समय बचता है साथ ही ये BIOS और UEFI Firmware दोनों को ही सपोर्ट करता है।

WinSetupFromUSB का इस्तेमाल करके मल्टीबूट पेनड्राइव कैसे बनाए?

स्टेप 1: सबसे पहले WinSetupFromUSB को इसकी ऑफिसियल वेबसाइट से डाउनलोड करे।

स्टेप 2WinSetupFromUSB आपके सिस्टम में डाउनलोड होने के बाद उस पर डबल क्लिक करे।

स्टेप 3: अब Extract बटन पर क्लिक करे।

अब फाइले एक्सट्रेक्ट हो कर Mlti USB Creator के नाम से फोल्डर में कॉपी हो गई है। ये Downloads फोल्डर के अंदर मिलेगा।

स्टेप 4: अब WinSetupFromUSB_1-10_x64 फाइल पर डबल क्लिक करे।

अगर आपका सिस्टम 32-bit का है तो WinSetupFromUSB_1-10 फाइल पर क्लिक करे, अगर 64-bit का है तो WinSetupFromUSB_1-10_x64 फाइल पर डबल क्लिक करके ओपन करे।

स्टेप 5: अब अपनी पेनड्राइव को सेलेक्ट करे

वैसे तो ये अपने आप USB सेलेक्ट कर लेगा लेकिन अगर आपके सिस्टम में कई सारे USB डिवाइस या पेनड्राइव लगी हुई है तो आपको मैन्युअली सेलेक्ट करनी होगी।

स्टेप 6: अब Auto format it FBinst और फिर FAT32 को सेलेक्ट करे। बाकि सेटिंग को ऐसे ही रहने दे।

स्टेप 7: अब Windows Vista/7/8/10/11/Server 2008/2012+based ISO को सेलेक्ट करे और उसके आगे जो बटन है उस पर क्लिक करके Windows की ISO फाइल को सेलेक्ट करे।

  • अगर आप Windows Vista/7/8/10/11 या फिर Windows Server 2008/2012 की ISO को पेनड्राइव में कॉपी करना चाहते है तो Windows Vista/7/8/10/11/Server 2008/2012+based ISO को सेलेक्ट करे।
  • अगर आप Windows 2000/XP/2003 की ISO को पेनड्राइव में कॉपी करना चाहते है तो Windows 2000/XP/2003 Setup को सेलेक्ट करे।
  • अगर आप Linux की ISO को पेनड्राइव में कॉपी करना चाहते है तो Linux ISO/Other Grub4dos compatible ISO को सेलेक्ट करे।

स्टेप 8: अब GO बटन पर क्लिक करे।

अब फिर से वही पूरा प्रोसेस फॉलो करना होगा। लेकिन ध्यान रहे इस बार स्टेप 6 को फॉलो ना करे। बस हर बार आपको अलग अलग OS और उसकी ISO को सेलेक्ट करना होगा। आखिर में Go बटन पर क्लिक करे।

जब एक एक करके सभी ऑपरेटिंग सिस्टम USB डिवाइस में इनस्टॉल हो जाएँगे तब बूट मेन्यू कुछ इस तरह से दिखाई देगा।

WinSetupFromUSB - Boot Screen
मल्टी बूटेबल USB (WinSetupFromUSB) डिवाइस में से किसी भी OS को कैसे हटाए या कैसे अनइंस्टाल करे?

WinSetupFromUSB का इस्तेमाल करके अपने सभी OS को अपने USB डिवाइस में तो दाल दिया लेकिन अब हटाए कैसे है ये भी जान लेते है।

इसमें ऐसा कोई खास फीचर नहीं दिया गया है जिसका इस्तेमाल करके आप OS को पेनड्राइव या USB डिवाइस में से हटा सके।

अगर किसी भी OS को आपको हटाना है तो उसके लिए आपको अपने USB डिवाइस में से उस ऑपरेटिंग सिस्टम की ISO फाइल को मैन्युअली एक एक करके डिलीट करना होगा।

MultiBootUSB बेहतरीन और पॉपुलर ओपन सोर्स प्रोग्राम है जो किसी भी USB डिवाइस को मल्टी बूटेबल डिवाइस में बदल सकता है। ये आपकी पेनड्राइव या USB डिवाइस को अपने आप ही डिटेक्ट कर लेता है। इसकी कोई ओफिसिअल वेबसाइट नहीं है लेकिन फिर भी दूसरी कई भरोसेमंद साइट है जहा से इसे डाउनलोड कर सकते है, जैसे की SourceForge और TechSpot

MultiBootUSB का इस्तेमाल करके मल्टी बूटेबल पेनड्राइव कैसे बनाए?

स्टेप 1: सबसे पहले MultiBootUSB को डाउनलोड करे।

स्टेप 2: अब MultiBootUSB पर डबल क्लिक करके उसे खोले और I Agree बटन पर क्लिक करे।

स्टेप 3: अब Install इनस्टॉल बटन पर क्लिक करे।

Browser बटन पर क्लिक करके आप इसकी लोकेशन बदल भी सकते है। बाय डिफ़ॉल्ट ये “C” ड्राइव में ही जाएगा।

स्टेप 4: नीचे दिए हुए पाथ को फॉलो करे।

C:\Program Files (x86)\multibootusb\

multibootusb नाम से एक फोल्डर होगा उसके अंदर आपको multibootusb.exe फाइल मिलेगी उसका शॉर्टकट डेस्कटॉप पर पेस्ट कर दे। ताकि आपको बार बार उस फोल्डर में जा कर इसे एक्सेस ना करना पड़े और ऐसा करने से आप डायरेक्ट इसे डेस्कटॉप से ही एक्सेस कर पाएंगे।

स्टेप 5: अब multibootusb.exe फाइल पर डबल क्लिक करे और उसे ओपन करे।

स्टेप 6: अब पेनड्राइव या USB ड्राइव को सेलेक्ट करे (जिसे मल्टीबूट USB बनाना है)।

स्टेप 7: अब Browse बटन पर क्लिक करे और ऑपरेटिंग सिस्टम की ISO फाइल को सेलेक्ट करे।

स्टेप 8: अब Intstall distro बटन पर क्लिक करे।

स्टेप 9: अब एक पॉपअप आएगा उसमे Yes बटन पर क्लिक करे।

अब ISO फाइल एक्सट्रेक्ट हो कर पेनड्राइव में कॉपी हो रही है।

जब ISO फाइल कॉपी हो जाए तब फिर से किसी दूसरी ISO फाइल को सेलेक्ट करे और Intstall distro बटन पर क्लिक करे। हर बार इसी प्रोसेस को फिर से दोहराए।

जब एक एक करके सभी ऑपरेटिंग सिस्टम USB डिवाइस में इनस्टॉल हो जाएँगे तब बूट मेन्यू कुछ इस तरह से दिखाई देगा।

MultiBootUSB - Boot Screen
मल्टीबूट पेनड्राइव (MultiBootUSB) में से किसी भी OS को कैसे हटाए या कैसे अनइंस्टाल करे?

MultiBootUSB का इस्तेमाल करके मल्टी बूटेबल पेनड्राइव या मल्टी बूटेबल USB तो हमने बना ली है। अब जानते है अगर हमे USB डिवाइस में से OS को हटाना हो तो कैसे हटाए।

स्टेप 1: सबसे पहले MultiBootUSB को खोले और अपनी पेनड्राइव को सेलेक्ट करे।

ठीक उसी तरह जैसे OS को पेनड्राइव में डालते समय कि थी। वैसे ये अपने आप ही पेनड्राइव या USB डिवाइस को डिटेक्ट कर लेगा।

स्टेप 2: अब लिस्ट में से उस OS को चुने जिसे आप हटाना चाहते है। जैसे की मैंने Ubuntu को सेलेक्ट किया है।

स्टेप 3: अब Uninstall Distro बटन पर क्लिक करे।

मल्टीबूट पेनड्राइव (MultiBootUSB) में से किसी भी OS को कैसे हटाए या कैसे अनइंस्टाल करे

Ventoy को लांच हुए अभी ज्यादा समय नहीं हुआ है और इतनी जल्दी ये काफी ज्यादा पॉपुलर हो गया है। इससे मल्टीबूट USB बनाना सबसे ज्यादा आसान है। ये एक ओपन सोर्स टूल है जिसकी मदद से आसानी से आप बूटेबल डिवाइस बना सकते है और वो भी कुछ ही क्लिक में।

Ventoy का इस्तेमाल करके मल्टी बूटेबल USB ड्राइव कैसे बनाए?

स्टेप 1: सबसे पहले Ventoy को डाउनलोड करे

अगर आपके कंप्यूटर में पहले से विंडोज इनस्टॉल है तो Windows वाली फाइल को डाउनलोड करे। अगर आपके कंप्यूटर में पहले से लिनक्स इनस्टॉल है तो Linux वाली फाइल को डाउनलोड करे।

स्टेप 2: अब जो ZIP फाइल डाउनलोड हुई है उसे डबल क्लिक करके खोले।

स्टेप 3: अब उसमे Ventoy नाम से जो फोल्डर है उसे CTRL + C बटन दबा के कॉपी करे और डेस्कटॉप या फिर “D” ड्राइव में Paste कर दे। मैंने इसे डेस्कटॉप पर पेस्ट किया है। आप चाहे तो इसे कही और भी पेस्ट कर सकते है।

स्टेप 4Ventoy के नाम से जो फोल्डर पेस्ट किया है उसे खोले और उसमे Ventoy2Disk.exe नाम से जो फाइल है उस पर डबल क्लिक करके ओपन करे।

स्टेप 5: अब अपनी पेनड्राइव को सेलेक्ट करे

स्टेप 6: अब Install बटन पर क्लिक करे।

स्टेप 7: अब दिए हुए बॉक्स में YES टाइप करे और OK बटन पर क्लिक करे। अब एक और पॉपअप आएगा फिर से Yes पर क्लिक करे। इसके बाद एक और पॉपअप आएगा फिर से Yes पर क्लिक करे।

पहला पॉपअप
दूसरा पॉपअप
तीसरा पॉपअप

अब Ventoy आपकी पेनड्राइव में इनस्टॉल हो रहा है।

स्टेप 8: अब Linux, Windows या किसी भी ऑपरेटिग सिस्टम की ISO फाइल को कंप्यूटर में से पेनड्राइव में कॉपी पेस्ट कर दे। क्यूंकि आपकी पेनड्राइव अब बूटेबल बन चुकी है।

जैसे कोई नार्मल फाइल या फोल्डर पेनड्राइव में कॉपी पेस्ट करते है ठीक उसी तरह से आपको ऑपरेटिग सिस्टम की ISO फाइल को पेनड्राइव में कॉपी पेस्ट कर सकते है और इनका नाम भी बदल सकते है। हेना ये सबसे ज्यादा आसान।

जब एक एक करके सभी ऑपरेटिंग सिस्टम USB डिवाइस में इनस्टॉल हो जाएँगे तब बूट मेन्यू कुछ इस तरह से दिखाई देगा।

Ventoy - Boot Screen (Boot Menu)
मल्टी बूटेबल USB (Ventoy) में से किसी भी OS को कैसे हटाए या कैसे अनइंस्टाल करे?

Ventoy का इस्तेमाल करके मल्टी बूटेबल USB बनाना बहुत ही आसान है ये अपने ऊपर देख ही लिया है और साथ ही इसमें से किसी भी OS हटाना भी बहुत ही आसान है। Ventoy में OS को हटाने का कोई फीचर नहीं है लेकिन अगर आप OS को हटाना चाहते है तो आपको अपनी पेनड्राइव में से उसे मैन्युअली डिलीट करना होगा।

जब तक आपकी पेनड्राइव या USB ड्राइव में जगह है तब तक जितनी चाहे उतनी ISO फाइल कॉपी कर सकते है।

ध्यान रहे की जिस टूल का इस्तेमाल करके आपने मल्टी बूटेबल USB बनाई है, उस ही टूल का इस्तेमाल करके आप OS को हटा सकते है। अगर आपने मल्टी बूटेबल USB एक टूल से बनाई है और OS को हटाने के लिए दूसरे टूल का इस्तेमाल करेंगे तो ऑपरेटिंग सिस्टम को अपने डिवाइस में से हटा नहीं पाएंगे क्यूंकि सभी सिस्टम का तरीका बूटेबल बनाने का तरीका अलग है।

सभी टूल की सबसे अच्छी बात ये है कि किसी को भी इनस्टॉल करने की जरुरत नहीं पड़ती है क्यूंकि ये सभी पोर्टेबल और ओपन सोर्स है। इन सभी की साइज भी काफी छोटी है।

इनमे मुझे जो सबसे ज्यादा पसंद है वो है YUMI exFAT और Ventoy, क्यूंकि दोनों सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल एक ही जैसा है और काफी आसान भी है। कोई भी व्यक्ति बड़ी ही सरलता से इनका इस्तेमाल करके किसी भी डिवाइस को मल्टी बूटेबल USB डिवाइस बना सकता है।

तो ये है वो 4 टूल जिनके जरीए बड़ी ही आसानी से मल्टी बूटेबल USB बना सकते है। केवल इतना ही नहीं इन सभी सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल सिंगल या मल्टी OS बूटेबल USB डिवाइस बनाने के लिए भी कर सकते है।

अगर आप ऐसे ही किसी ओर टूल के बारे में जानते है तो हमे नीचे कमेंट करके जरूर बताए और साथ ही बताए की मल्टीबूट पेनड्राइव बनाने के लिए आप कौन से टूल का इस्तेमाल करते है।

अगर ये जानकारी आपको अच्छी लगी हो तो इस आर्टिकल को अपने दोस्तों, परिवार जनो और सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करे और हम से जुड़े रहने और लेटेस्ट अपडेट के लिए आप हमें Facebook पर फॉलो करे।

Dharmendra Author on Web Janakari

मेरा नाम धर्मेंद्र मीणा है, मुझे तकनीक (कंप्यूटर, लैपटॉप, स्मार्टफोन्स, सॉफ्टवेयर, इंटरनेट, इत्यादि) से सम्बन्धी नया सीखा अच्छा लगता है। जो भी में सीखता हु वो मुझे दुसरो के साथ शेयर करना अच्छा लगता है। इस ब्लॉग को शुरू करने का मेरा मकसद जानकारी को ज्यादा से ज्यादा लोगो तक हिंदी में पहुंचना है।

शेयर करे:

Leave a Comment

Your email address will not be published.